लिखे जो खत तुझे Likhe Jo Khat Tujhe Lyrics - Saman Puri

Likhe Jo Khat Tujhe Lyrics in Hindi sung by Saman Puri. The Likhe Jo Khat Tujhe song is written by Neeraj, original music composed by Shankar Jaikishan and music recreated by Sanam Puri.
लिखे जो खत तुझे Likhe Jo Khat Tujhe Lyrics - Saman Puri
Likhe Jo Khat Tujhe Lyrics In Hindi - Saman Puri

लिखे जो खत तुझे वो तेरी याद में
हज़ारो रंग के नजारे बन गए
सवेरा जब हुआ तो फूल बन गए
जो रात आयी तो सितारे बन गए
लिखे जो खत तुझे
हम्म..


कोई नग़मा कहीं गूंजा
कहाँ दिल ने ये तू आयी
कहाँ चटकी कली कोई
मैं ये समझा तू शर्मायी
कोई खुशबू कहीं बिखरी
लगा ये ज़ुल्फ़ लहराई

लिखे जो खत तुझे वो तेरी याद में
हज़ारो रंग के नजारे बन गए
सवेरा जब हुआ तो फूल बन गए
जो रात आयी तो सितारे बन गए
लिखे जो खत तुझे

फ़िज़ा रंगीन अदा रंगीन
ये इठलाना ये शर्माना
ये अंगड़ाई ये तन्हाई
ये तरसा कर चले जाना
बना देगा नहीं किसको
जवां जादू ये दीवाना


लिखे जो खत तुझे वो तेरी याद में
हज़ारो रंग के नजारे बन गए
सवेरा जब हुआ तो फूल बन गए
जो रात आयी तो सितारे बन गए
लिखे जो खत तुझे
हम्म.
Likhe Jo Khat Tujhe Song Detail
Sanam Puri -: Vocals
Samar Puri -: Guitars
Venky S -: Bass
Keshav Dhanraj -: Drums
DOP -: Charudatta Rane
Editor -: Samar Puri
2nd Camera -: Yogesh Narang
Lighting -: Ravi Khandale
Costume Stylist -: Blossom Lalwani
Make Up & Hair -: Amit & Atif

Post a Comment

Previous Post Next Post